Tuesday , January 26 2021
Breaking News
Home / अभी-अभी / चीनी कंपनियों के कोरोना किट्स निकले फिसड्डी, ICMR ने लगाई रोक

चीनी कंपनियों के कोरोना किट्स निकले फिसड्डी, ICMR ने लगाई रोक

चीन से मंगाई गई कोरोना एंटीबॉडी रैपिड टेस्ट किट की खरीद को लेकर मोदी सरकार और ICMR सवालों के घेरे में है. कांग्रेस ने सवाल उठाए है. वहीं ICMR ने अब इस पर रोक लगा दी है.

कोरोना एंटीबॉडी रैपिड किट्स की खरीद को लेकर मोदी सरकार और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) सवालों के घेरे में है. कांग्रेस ने सवाल उठाते हुए पूछा है कि आईसीएमआर को 245 रुपये में आयात की गई एंटीबॉडी टेस्ट किट को 600 रुपये प्रति पीस में क्यों खरीदना पड़ा.

रैपिड टेस्ट किट्स को लेकर कई राज्यों की ओर से आपत्ति उठाए जाने के बाद भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने राज्यों से कहा कि वे चीन की दो कंपनियों ग्वांझू वोंडफो बॉयोटेक कंपनी लिमिटेड और झुवाई लिवजोन डायग्नोस्टिक्स इंक) से खरीदी गई टेस्ट किट्स का इस्तेमाल रोक दें.

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने राज्य सरकार की शिकायत के बाद अपनी किट का मूल्यांकन करने के बाद आज सोमवार को सलाह जारी की. ICMR की ओर से जारी सलाह में कहा गया कि चीन के ग्वांझू वोंडफो बॉयोटेक और हुआई लिवजोन डायग्नोस्टिक किट्स का इस्तेमाल रोक दें.

किट्स में खामियां
ICMR ने यह भी बताया कि उक्त कंपनियों के किट्स को वापस किया जा रहा है. ICMR ने कहा कि दोनों कंपनियों के किट्स की जांच की गई, जिसमें पाया गया कि अलग तरह के परिणाम आ रहे हैं, जबकि जल्द परिणाम आने के साथ ही सही काम करने का दावा कंपनियों ने किया था.

क्या कहती हैं दोनों चीनी कंपनियां
दूसरी ओर, चीन से आयात किए गए रैपिड टेस्ट किट को लेकर देश में घमासान मचा हुआ है. राजस्थान और पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से एक्यूरेसी पर सवाल उठाए गए. जिसके बाद देश में मेडिकल नियामक संस्था आईसीएमआर ने राज्यों को इसका उपयोग न करने की सलाह दी. वहीं अब अगले आदेश तक इस टेस्टिंग किट के इस्तेमाल पर सरकार ने रोक लगा दी है.

Check Also

उत्तर प्रदेश की तरफ से आ रहे एक ट्रक में बंजारी मोड़ के समीप एनएच 27 पर 9 ऊंट बरामद किए गए हैं।

गोपालगंज : शहर के बंजारी मोड़ के समीप एनएच 27 पर एक ट्रक पर लाद ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *